वास्तु शास्त्र क्या है?Vastu - Feng Shui

भारतीय ज्योतिष की अधिकतर चीजों को विज्ञान अंधविश्वास करार देता है लेकिन ज्योतिष की एक अहम शाखा "वास्तु शास्त्र और ज्ञान" को विज्ञान ने भी प्रमाणित किया है। वास्तु शास्त्र भवन निर्माण का विज्ञान है।
वास्तु शास्त्र क्या है (What is Vastu Shashtra)
"वास्तु" शब्द का शाब्दिक अर्थ विद्यमान यानि निवास करना होता है। निवास करने वाली जगह को बनाने और संवारने के विज्ञान को ही वास्तु शास्त्र (Vastu Shastra in Hindi) कहा गया है। वास्तु शास्त्र के सिद्धांत आठों दिशाओं तथा पंच महाभूतों आकाश, भू, वायु, जल, अग्नि आदि के प्रवाह आदि को ध्यान में रखने बनाए गए हैं। इन सबके मेल से एक ऐसी प्रकिया खड़ी की जाती है जो मनुष्य के रहने के स्थान को सुखमय बनाने का कार्य करती है।
क्या है वास्तु दोष (Vastu Dosh)
साधारण भाषा में समझा जाए तो जब मनुष्य के रहने के स्थान पर किसी तत्व में कोई कमी आती है तो उसका जीवन कष्टकारी हो जाता है। वास्तु शास्त्र यह सुनिश्चित करता है कि भवन के आसपास का माहौल पंच-तत्वों और आठों दिशाओं के अनुकूल हो।
[+]

वास्तु उपाय

वास्तु शास्त्र के अनुसार दुकान या शोरुम का मुख्य दरवाजा यदि पूर्व या उत्तर दिशा की तरफ हो तो यह व्यापार के लिए लाभकारी माना जाता है। यदि पूर्व या उत्तर की ओर द्वारा बनाना सम्भव ना हो तो, दुकान का मुख पश्चिम की तरफ भी किया जा सकता है। पूरा पढ़ें»

फेंग शुई उत्पाद

फेंग शुई के अनुसार घर में समृद्धि और खुशियां लाने के लिए कई तरह के उत्पादों का इस्तेमाल करने की सलाह दी जाती है। आज घर-घर में पाएं जाने वाले लाफिंग बुद्धा, मनी प्लांट आदि फेंग शुई की ही देन है। फेंग शुई के जानकार मानते हैं कि यह वस्तुएं आपकी सोई किस्मत को जगाकर आपको खुशहाल बना सकती हैं। पूरा पढ़ें»

फेंग शुई टिप्स

What is Feng Shui - आखिर क्या है फेंग शुई?
फेंग शुई का चीनी भाषा में शाब्दिक अर्थ हैं हवा और पानी।
प्राचीन चीनी ज्योतिषियों की राय में ऊर्जा हवा (Wind-Feng) और जल (Water- Shui) के साथ बहते हुए अपना कार्य करती है। पूरा पढ़ें»

नामांक बताएगा आपका भविष्य

नामांक भविष्यफल जानने का आसान तरीका
माना जाता है। अपना नामांक जानने के
लिए यहां अपना नाम दर्ज करें

Love Meter

लव मीटर

ताज़ा ख़बर

शब्दकोश

word of the day

सपनों का अर्थ