शनि साढ़ेसाती के उपाय, टोटके और सरल मंत्र
पारंपरिक घरेलू उपाय (Indian Traditional Upay )

शनि साढ़ेसाती के उपाय, टोटके और सरल मंत्र

Shani sade sati ke upay, totke aur saral mantra

Women Raftaar

अगर आप पर शनि की साढ़ेसाती है या शनि की ढैया है तो इन उपायों को अपनाने से शनि के प्रभावों को कम कर सकते हैं और शनि की कृपा दृष्टि भी आप पर पड़ेगी। चलिए आपको इस लेख में बताते हैं शनि साढ़ेसाती के उपाय, टोटके और सरल मंत्र।

1. शनि की साढ़ेसाती के दुष्प्रभावों से छुटकारा पाने के लिए आपको रोज़ाना हनुमान चालीसा या बजरंग बाण का पाठ करना चाहिए।


2. शनिवार के दिन सुबह नंगे पैर हनुमान मंदिर जाएं और हनुमान जी के चरणों का सिन्दूर लेकर माथे पर लगाएं।


3. शनि दशा में काले घोड़े की नाल की अंगूठी बनवाएं और उसे हाथ की बीच की उंगली में पहनें।


4. शनि के साढ़ेसाती के प्रभाव को कम करने के लिए शनिवार को शनि देव के मंदिर में सरसों का तेल और ताम्बा चढ़ाएं।


5. शनि दशा में अगर आप महामृत्युंजय मंत्र का जाप रोज 108 बार करते हैं तो शनि देव की दशा से जल्द से जल्द छुटकारा मिलेगा। अगर आप 108 बार नहीं तो 21 बार इस मंत्र का जाप करें।


6. शनि देव की दशा को दूर करने के लिए सोमवार को शिवलिंग पर कच्चे दूध के साथ काले तिल चढ़ाएं।


7. शनिवार की रात में स्वयं न दूध पीते हुए रात के समय कुत्ते को दूध पिलायें।


8. शनि की साढ़ेसाती में शराब, मांस, मछली अंडे आदि सेवन न करें।


9. अपनी थाली में पहली रोटी लेने के बाद उसके तीन हिस्से कर लें और फिर उसे एक गाय, एक कुत्ते और एक कौवे को खिलाएं। 


10. शनि के प्रकोप को दूर करने के लिए रोज़ाना काले रंग की भैंस की देखभाल करें और उसे गुड़ खिलाएं।