शरीर पर तिल का फलादेश
तिल

शरीर पर तिल का फलादेश

Shareer par til ka phalaadesh

Sunil Bhatt

सामुद्रिक शास्त्र ज्योतिष विद्या की एक अहम पुस्तक है जिसमें शारीरिक अंगो, हाव-भाव, तिल-मस्सों आदि के बारें में भविष्यवाणी की गई है। इसी शास्त्र के अनुसार मानव शरीर पर बने तिल (Shareer Par Til) उसके स्वभाव और भविष्य के बारें में सबसे सटिक भविष्यवाणी करते हैं। सामुद्रिक शास्त्र में शरीर के हर अंग पर बने तिलों का अलग-अलग प्रभाव होता है जैसे गले पर तिल (Mole On Neck In Hindi) होना जातक के सुरीला होने की निशानी होती है तो वहीं स्त्रियों की छाती पर तिल का होने उनके पुत्रवान होने की भविष्यवाणी करता है आदि। इसी तरह शरीर के अलग-अलग हिस्सों पर बने अलग-अलग वर्ण और आकार के तिलों का अपना फलादेश होता है। इन तिलों के बारें में (Til Ke Bare Me) जानकर आप यह निर्णय ले सकते हैं कि सामने वाला इंसान कैसा है और कैसा नहीं? पुरुषों और महिलाओं (Moles on Female Body) के शरीर पर तिल का फलादेश कई जगह अलग-अलग होता है।