आंख का फड़कना

Ankh ka fadakna
आंख का फड़कना

अगों का फड़कना

अंग ज्योतिष के अनुसार आंखों का फड़कना हमारे जीवन में होनी वाली कई घटनाओं की पूर्व सूचना देता है। आंखों के फड़कने के कई मतलब निकाले जाते हैं जिनमें से कुछ निम्न हैं:

आंखों का फड़कना

ज्योतिष शास्त्र के मुताबिक शरीर के सभी अंग फड़कते हैं तथा सभी अंगों के फड़कने का अलग-अलग परिणाम होता है। माना जाता है कि दांयी आंख का फड़कना पुरुषों के लिए शुभ तथा बांयी आंख का फड़कना स्त्रियों के लिए शुभ संकेत देती है।

दांयी आंख का फड़कना (Right Eyes):

दांयी आंख का फड़कना शुभ माना जाता है। यदि दांयी आंख की ऊपरी पलक और भौंवें फड़कती है तो व्यक्ति की मन की इच्छाएं पूरी हो जाती है, पदोन्नति तथा धन लाभ होता है। परंतु दांयी आंख के नीचे के हिस्से का फड़कना अशुभ सूचना का संकेत देता है।

बांयी आंख का फड़कना (Left Eye)

बांयी आंख का फड़कना अशुभ माना जाता है। यदि बांयी आंख की पलक और भौंवें फड़कती है तो व्यक्ति के दुश्मन से लड़ाई हो सकती है तथा दुश्मनी बढ़ सकती है। परंतु बांयी आंख के नीचे के हिस्से के फड़कने पर किसी से कहा सुनी हो सकती है तथा उसके सामने लज्जित होना पड़ सकता है। महिलाओं के लिए बाईं आंख फड़कना एक शुभ संकेत होता है।

संबंधित लेख

No stories found.