ग्यारह मुखी रुद्राक्ष - Gyarah Mukhi Rudraksha
रुद्राक्ष

ग्यारह मुखी रुद्राक्ष - Gyarah Mukhi Rudraksha

Team Raftaar

ग्यारह मुखी रुद्राक्ष को साक्षात शिव का रुद्र रूप माना गया है। इस रुद्राक्ष को सोमवार, शुक्रवार या एकादशी के दिन ही धारण करना चाहिए। इस रुद्राक्ष को भगवान इन्द्र का भी प्रतीक माना जाता है। ग्यारहामुखी रुद्राक्ष को किसी भी वर्ग, जाति या राशि के जातक बिना भेदभाव धारण कर सकते हैं।

ग्यारह मुखी रुद्राक्ष के फायदे (Benefits of Gyarah Mukhi Rudraksha in Hindi)

* इस रुद्राक्ष के धारण करने वाले जातक को हनुमान जी की कृपा हासिल होती है।

* ग्यारह मुखी रुद्राक्ष को संतान प्राप्ति के लिए बेहद अहम माना जाता है।

* घर में भूत-प्रेत की बाधा हो तो इस रुद्राक्ष को धारण करने की सलाह दी जाती है।

* रोग से परेशानी हो, पति की तबियत खराब रहती हो तो उन्हें इस रुद्राक्ष को धारण करने का सुझाव दिया जाता है।

* इस रुद्राक्ष को धारण करने से मुनष्य की सम्पूर्ण कामनाएँ पूर्ण हो जाती हैं।

ग्यारह मुखी रुद्राक्ष का मंत्र (Gyarah Mukhi Rudraksha Mantra in Hindi)

* ग्यारह मुखी रुद्राक्ष के लिए “ऊँ ह्रीं हुं नम:” (Om Hreem Hum Namah) बीज मंत्र का जाप करें।