Go To Top
Raftaar HomeRaftaar Home
Menu
Search
Menu
close button
Narsingh Jayanti

नरसिंह जयंती और शनिवार के संयोग से करें ये खास उपाय जीवन भर दूर रहेगी परेशानियां।

हर वर्ष नरसिंह जयन्ती बैसाख मास की चतुर्दशी को पडती है, इस वर्ष यह जयन्ती 28 अप्रैल शनिवार को पड रही है। भारतीय शास्त्र मान्यता के अनुसार भगवान नरसिंह को भगवान विष्णु के चौथे अवतार के रूप में पूजा जाता है, और कहा जाता है कि इसी दिन भगवान विष्णु ने आधा नर और आधा सिंह अर्थात नरसिंह रूप धारण किया था । इस अवतार को लेने के पीछे भगवान विष्णु का कारण यह था कि महादैत्य हिरण्यकष्यप को वरदान प्राप्त था कि उसे ना तो कोई मनुष्य मार सकता था ना ही कोई पशु साथ ही उसे यह भी वरदान प्राप्त था कि उसे कोई अस्त्र या कोई शस्त्र भी उसे हानि नही पहुंचा सकता. इसलिए भगवान विष्णु ने महादैत्य हिरण्यकष्यप को मारने के लिए आधा नर और आधा सिंह अर्थात नरसिंह रूप में अवतार लिया ओर ब्रहमा से प्राप्त वरदान का मान रखते हुए अपने नखो अर्थात अपने नाखुनो से महादैत्य हिरण्यकष्यप का वध किया । नरसिंह जयन्ती के दिन किये गये कुछ खास उपायो को करके आप भगवान विष्णु को प्रसन्न कर सकते है साथ ही अपनी परेशानियां का समाधान भी पा सकते है।
1. नरसिंह जयन्ती के दिन भगवान विष्णु का दषिणावर्ती शंख से अभिषेक करने से रूके हुए कार्यो में गति आती है साथ ही धन से जुडी समस्याए भी खत्म होती है।
2. जिन लोगो के मन में अकारण ही भय बना रहता है, उन्हे नरसिंह रक्षा कवच का पाठ करना चाहिए इससे मन में शांति बनी रहती है और डर भी नही लगता ।
3. अगर बार-बार दुर्धटना होती है, या बार-बार किसी प्रकार की शारिरीक हानि होती है तो, नरसिंह जयन्ती के दिन सुदर्षन चक्र का पाठ करना चाहिए ।
4. नरसिंह जयन्ती के दिन भगवान विष्णु के सहस्त्र नामावली का जप करने से अक्षत पुण्य की प्राप्ति होती है, साथ ही समस्त पाप भी नष्ट हो जाते है।
5. अगर आप किसी भी प्रकार की आर्थिक समस्या से परेशान चल रहे है तो, नरसिंह जयन्ती के दिन भगवान श्री विष्णु और माता लक्ष्मी का केसर के दूध से अभिषेक करे ऐसा करने से आर्थिक समस्यांओ से लाभ मिलता है।
6. नरसिंह जयन्ती के दिन भगवान विष्णु के अर्थ्वषिष का पाठ करने से गुरू ग्रह के दोषो में आराम मिलता है।
7. नरसिंह जयन्ती के दिन पुरूष सूत और श्री सूत का पाठ करने से भगवान विष्णु और माता लक्ष्मी की कृपा प्राप्त होती है और परिवार में भी सुख शांति बनी रहती है।
8. नरसिंह जयन्ती के दिन कनक धारा स्त्रोत और मंगल ऋणमोचन का एक साथ पाठ करने से कर्ज से मुक्ति मिलती है।
9. जिन लोगो का विवाह नही हो रहा है या वैवाहिक जीवन मे समस्याएं आ रही है तो भगवान विष्णु और माता लक्ष्मी को खीर का भोग लगावे ऐसा करने से शुक्र ग्रह को बल मिलता है और वैवाहिक जीवन में भी शांति मिलती है।
10. जिन लोगो कि कुण्डली में पितृ दोष है, उन्हे नरसिंह जयन्ती के दिन भगवान विष्णु के “ओम नमः भगवते वासुदेवाय नमः” मंत्र का जाप करना चाहिए ।
11. अगर कुण्डली मे गुरू और सूर्य ग्रह पीड़ित है तो भगवान विष्णु का विधिवत तरीके से पूजन करे, साथ ही भगवान विष्णु के मंत्र ओम नमो नारायणाय का जाप करे, अवष्य ही लाभ प्राप्त होगा ।
ज्योतिषाचार्य आचार्य भारत जी व्यास, महर्षि व्यास ज्योतिष केंद्र (+91-8696840491)