Go To Top
Raftaar HomeRaftaar Home
Menu
Search
Menu
close button
Saat Mukhi Rudraksha

सात मुखी रुद्राक्ष (Saat (7) Mukhi Rudraksha)

रुद्राक्ष के विभिन्न प्रकार के बारें में जानने के लिए क्लिक करें

सात मुखी रुद्राक्ष को कामदेव का रूप माना गया है। यह सर्वाधिक सुगम रुद्राक्षों में से एक है। इस रुद्राक्ष की एक अन्य खासियत यह है कि अगर इसका सही ढ़ंग से ख्याल रखा जाए तो यह कई सालों तक सही सलामत रहता है। सात मुखी रुद्राक्ष अनंगस्वरुप और "अनंग" आदि नामों से भी प्रसिद्ध है।
सात मुखी रुद्राक्ष के फायदे (Benefits of Saat Mukhi Rudraksha in Hindi)
* जो लोग कोर्ट-कचहरी के मामलों में फंसे हों या जो जातक शनि की साढ़ेसाती, शनि की ढैया या शनि की महादशा से प्रभावित हैं उनके लिए यह रुद्राक्ष एक बेहद उपयोगी माना गया है।
* महामृत्युंजय मंत्र का जाप करते हुए इस रुद्राक्ष की माला को धारण करना लाभकारी माना जाता है।
* मकर और कुंभ राशि के स्वामी ग्रह शनि है इसलिए दोनों राशि के जातकों के लिए सात और चौदह मुखी रुद्राक्ष को पहनना शुभ बताया गया है।
* शिवपुराण के अनुसार इस रुद्राक्ष को धारण करने से दरिद्र भी ऐश्वर्यशाली हो जाता है।
सात मुखी रुद्राक्ष का मंत्र (Sath Mukhi Rudraksha Mantra in Hindi)
* सप्त मुखी रुद्राक्ष को धारण और उसकी शुद्धि लिए “ऊँ हुं नम:” (Om Hum Namah) मंत्र का जाप करना चाहिए।

Raftaar