Go To Top
Raftaar HomeRaftaar Home
Menu
Search
Menu
close button

हस्तरेखा ज्योतिष शास्त्र

हस्तरेखा- बड़े-बुजुर्ग अकसर कहते हैं कि हमारी किस्मत हमारे हाथ में ही होती है। यह किस्मत हाथ की उन रेखाओं में भी समाई हुई है जो समय के साथ बदलती रहती हैं। हाथ की इन्हीं रेखाओं के अध्यन को हस्त रेखा (Hast Rekha) विज्ञान कहा जाता है।
हस्तरेखा (Palmistry in Hindi): हस्त रेखा विज्ञान बेहद प्राचीन है। प्राचीन वेदों में भी हाथ देखकर भविष्य की गणना करने के साक्ष्य मौजुद हैं। सबसे अधिक प्रभावी और विस्तृत रूप से हस्त रेखा विज्ञान (History of Palm Reading) का वर्णन सामुद्रिक शास्त्र में पाया गया है।
हाथ की रेखाएं (Palm Lines): हस्त रेखा शास्त्र में कई तरह की रेखाओं के महत्व को दर्शाया गया है लेकिन मुख्य रूप से सात रेखाओं (Main Palm Lines) को ही अहम स्थान दिया गया है। इन रेखाओं को पढ़ने के लिए विशेष ज्ञान की आवश्यकता होती है। आइए जानें इन रेखाओं के बारें में:
जीवन रेखा- हाथों की लकीरों में ही इंसान के जीवन-मरण का सारा रहस्य छुपा होता है। जीवन चक्र के इस रहस्य को बताने वाली इस रेखा को ही जीवन रेखा (Life Line in Hands/ Palm) कहा जाता है।पूरा पढ़ें»
विवाह रेखा- शादी के बिना समाज में स्त्री और पुरुष का रिश्ता मान्य नहीं होता। जीवन में विवाह के बारें में सटीक भविष्यवाणी करनी हो तो ज्योतिषी हाथों की विवाह रेखा (Marriage Lines in Palm) का अध्ययन करते हैं।पूरा पढ़ें»
भाग्य रेखा- हस्तरेखाओं में भाग्य रेखा (Fate Line in Palmistry in Hindi) को सबसे अहम माना जाता है।
कहां होती है भाग्य रेखा ? (Where is Fate Line in Hand): भाग्य रेखा हृदय रेखा के मध्य से शुरु होकर मणिबन्ध तक जाती है। इस रेखा का उद्गम अधिकतर मध्यमा या शनि पर्वत से होता है।
पूरा पढ़ें»
संतान रेखा- भाग्य में संतान सुख का प्रमाण ज्योतिष के अनुसार कई चीजों में होता है जैसे कुंडली या हस्त रेखाओं में। हाथ की संतान रेखा (Santan Rekha or Kids Line in Hands) भाग्य में संतान सुख की एक बेहद अहम निशानी है।पूरा पढ़ें»
मणिबंध रेखाएं- हाथ की सभी रेखाओं का सामुद्रिक शास्त्र में कुछ ना कुछ महत्व बताया गया है। हाथ की कलाई पर बनी मणिबंध रेखाओं (Bracelet lines) का भी भविष्यकथन में अहम स्थान है।पूरा पढ़ें»
हृदय रेखा- जीवन में प्यार के सभी अहसासों और प्यार की सारी कहानी को हृदय रेखाएं अपने अंदर समा कर रहती है।
हृदय रेखा कहां होती है? (Heart Line in Hand): हथेली पर हृदय रेखा तर्जनी और मध्यमा के बीच से शुरु होकर हथेली के दूसरे छोर तक जाती है।
पूरा पढ़ें»
मस्तिष्क रेखा- किसी इंसान की बुद्धिमानी, समझदारी और पढ़ाई के बारें में भविष्यवाणी करने के लिए मस्तिष्क रेखा (Head Lines Palmistry) का अध्ययन किया जाता है।
कहां होती है मस्तिष्क रेखा? (Head Line in Palmistry): हथेली के एक छोर से दूसरे छोर की तरफ जाने वाली रेखा मस्तिष्क रेखा कहलाती है।
पूरा पढ़ें»
सूर्य रेखा- हिन्दू ज्योतिषशास्त्रानुसार कई बार लोग बड़ी-बड़ी खोजें और बेहद दुर्लभ कार्य कर जाते हैं लेकिन कोई उनकी तारीफ नहीं करता, कोई उन्हें नहीं पूछता, ऐसे व्यक्तियों के जीवन में कमी यश रेखा या सूर्य रेखा की वजह से होती है।पूरा पढ़ें»
हस्तरेखा देखने के नियम- हर ज्योतिष शिक्षा की तरह हस्त रेखा परिक्षण (Palm Lines Reading in Hand) के लिए भी कुछ नियम हैं । अगर आप किसी का हाथ देखना या अपना हाथ दिखाना चाहते हैं तो आपको इन बातों का ज्ञान होना ही चाहिए।पूरा पढ़ें»