Go To Top
Raftaar HomeRaftaar Home
Menu
Search
Menu
close button
Dhanu Rashi

वार्षिक राशिफल धनु (Varshik Rashifal Dhanu)- Year 2018

Astrology, Horoscope, Rashiphal, Prediction | राशिफल | Rashifal  in Hindi

Raftaar Live

परिवार और मित्र: धनु राशि का स्वामी गुरु लाभ स्थान में बैठकर संतान तथा विवाह भाव को देख रहा है यदि आप विवाह के लिए इच्छुक है तो आपकी शादी हो जायेगी और यदि आप संतान के लिए इच्छुक है तो संतान का सुख मिलेगा कितना अच्छा योग आपके लिए इस वर्ष बन रहा है शायद आपने इसकी कल्पना तक नहीं किया होगा आपको इसका लाभ जरूर लेना चाहिए। जिस जातक की इस वर्ष शादी होगी उसे संतान सुख भी मिलेगा। आप के परिवार में सदस्यों की संख्या में वृद्धि होने वाली है। पारिवारिक सदस्यों के साथ वाद विवाद या तर्क-वितर्क होने की संभावना दिखाई दे रही है। हालाँकि आप अपनी समझबुझ से इस समस्या को दूर कर सकते हैं ।दाम्पत्य जीवन में कोई विशेष समस्या नहीं आने वाली है फिर भी थोड़ी बहुत नोकझोंक संभावित है और आपको इसे गंभीरतापूर्वक नहीं लेना चाहिए। यह स्थिति केवल झूठ तथा अविश्वास या सत्य को छिपाने के कारण उत्पन्न हो कृपया ऐसा न होने दे। एक दूसरे के विचारो को जाने उसे निःस्वार्थ भाव से तर्क की कसौटी पर परखे उसके बाद कोई उचित फैसला ले ऐसा करने पर आप को कोई समस्या नही आने वाली है।
रिश्‍ते और प्‍यार:आपके प्रेम-रोमांस भाव का स्वामी मंगल है तथा लाभ स्थान से गुरु की दृष्टि भी प्रेम भाव पर है अत: सितम्बर माह तक तो आपके ऊपर प्यार का भूत चढ़ा ही रहेगा। मई से नवम्बर तक मंगल मकर राशि में उच्च होकर अपनी राशि तथा प्यार भाव को देखेगा जिसके कारण आपमें प्यार का ऐसा खुमार चढ़ेगा की उसे जिंदगी भर नहीं भूलेंगे। प्यार में उत्तेजना ज्यादा होगा परन्तु यह खतरनाक साबित हो सकता है आपको इस पर अंकुश रखना ही होगा। रिश्तों के बीच किसी प्रकार के संदेह को पैदा न होने दें। रिशतों बनाएं रखना ही बेहतर विकल्प होगा। इस वर्ष आप यौनसुख का भरपूर आनंद उठाने वाले हैं। जीवनसाथी का पूरा सहयोग मिलेगा। अवैध सम्बन्ध की ओर आपका झुकाव रहेगा इससे बचें ।
स्‍वास्‍थ्‍य: यदि आपकी जन्मकुंडली में शुक्र या बुध की दशा अन्तर्दशा चल रही हैं तो आप बीमारी से बचने का पुरा इंतजाम कर लीजिए। दूषित रक्त और दूषित भोजन जनित रोग होने की संभावना है। अतः बेहतर स्वास्थ्य के लिए इन सब चीज़ों से दूरी बनाकर रहें। खान-पान पर ध्यान दें, वरना लिवर में कुछ दिक्क़तें हो सकती हैं। इसके प्रति गंभीर रहें और ज़्यादा तेलयुक्त आहार लेने से बचें। पैर में तकलीफ हो सकती है चोट भी लग सकती है। सर्वाइकल के कारण आप कुछ ज्यादा परेशान रह सकते है। वाणी दोष के कारण मानसिक व्याघात हो सकता है। मूत्राशय से सम्बन्धित कोई बीमारी होने की आशंका है। यदि बृहस्पति की दशा चल रही है तथा गुरु ग्रह पर अशुभ ग्रह की दृष्टि या युति है तो चीनी (Sugar) या लिवर(Liver) सम्बन्धित शिकायत हो सकती है।
करियर और शिक्षा:नौकरी चाहने वाले लोगों के लिए अच्छा अवसर है। यदि बुध आपकी जन्मकुंडली में तीसरे, सातवे, तस्था नवमे भाव में स्थित है तो निश्चित ही आपको नौकरी मिलेगी आप नौकरी ज्वाइन करने की तैयारी शुरू कर दीजिये परनत कर्म करना न भूले क्योकि कर्म का ही लाभ मिलेगा। नौकरी चाहने वाले लोगों के लिए अच्छा अवसर है। यदि बुध आपकी जन्मकुंडली में तीसरे, सातवे, तस्था नवमे भाव में स्थित है तो निश्चित ही आपको नौकरी मिलेगी आप नौकरी ज्वाइन करने की तैयारी शुरू कर दीजिये परनत कर्म करना न भूले क्योकि कर्म का ही लाभ मिलेगा।
बिज़नेस/स्‍टॉक/प्रॉपर्टी: व्यवसाय के दृष्टि से इस साल में बेहतर लाभ मिलने वाला है। फिर भी जल्दबाजी में कोई निर्णय लेना उचित नहीं होगा। सही-ग़लत का चुनाव करने के बाद ही कोई निर्णय लेना ठीक रहेगा। कारोबार के मामले में कोई भी फ़ैसला लेते समय पूरी सावधानी बरतें नहीं तो आपको नुकसान उठाना पड़ सकता है।इस वर्ष आप ग़ैरकानूनी तरीक़ों से धन कमाने की कोशिश करेंगे भुलकर भी ऐसा न करें नहीं तो सकारात्मक परिणाम के स्थान पर आपको नकारात्मक परिणाम मिल सकता है। आप ऐसे चक्रब्यूह में फंस जाऐंगे कि वहाँ से निकलना मुश्किल होगा। इसलिए आर्थिक मामलों में पारदर्शिता बरतना ही समस्या का समाधान है।

ज्योतिषाचार्य आचार्य भारत जी व्यास, महर्षि व्यास ज्योतिष केंद्र

शुभ रंग

शुभ अंक

धनु राशि के बारे में (Nov 23 - Dec 21)About Dhanu Rashi

Astrology, Horoscope, Rashiphal, Prediction | राशिफल | Rashifal  in Hindi

धनु राशि का स्वामी ग्रह "गुरु" को माना जाता है। धनु राशि के आराध्य देव "दत्तोत्रय" होते हैं।

धनु राशिफल (Dhanu Rashifal) - अन्य स्रोतों द्वारा

धनु राशि की विशेषतायें धनु राशि भचक्र की नौवीं राशि है, भचक्र पर इस राशि का विस्तार 240 अंशो से लेकर 270 अंशों तक रहता है. इस राशि के अंतर्गत मूल नक्षत्र के चार चरण, पूर्वाषाढ़ा नक्षत्र के चार चरण और ...

जब भी नए वर्ष की शुरूआत होने वाली होती है तो हर एक इंसान के मन में कुछ-न-कुछ सवाल ज़रूर उठने लगते हैं। यूँ तो सवालों का उठना ज़रूरी भी है, क्योंकि जब तक सवालों का उदय नहीं होगा तब तक हम अपने आने वाले ...

जनवरी से मार्च के बीच आपके कामों की प्रशंसा होगी । आपका वर्चस्व बढ़ेगा । श्रेष्ठ फलों की प्राप्ति होगी । घर-परिवार में सुख-शांति का माहौल बनेगा। राजनीतिक फायदे की स्थिति बनेगी । आपको लाभ के अवसर प्राप...